Amazing health benefits of daal chawal in hindi

दाल—चावल खाने के ये फायदे आपको कोई नहीं बताएगा

खाना खाने के लिए वैसे तो कई चीजे हैं लेकिन जब बात हो दाल चावल की तो इसकी बात की कुछ ओर होती है। क्योंकि दाल—भात खाने से भूख शांत होती है। उत्तर भारत में तो सबसे अधिक पसंद किया जाता है। दाल—चावल को लोग दाल भात भी कहते हैं। ये बहुत आसानी से बन जाता है। यही वजह है कि दिन के समय में ज्यादातर लोग दाल चावल खाते हैं। लेकिन आजकल के युवा लोगों को दाल चावल खाना पसंद नहीं है। लेकिन डायटीशियन और चिकित्सक कहते हैं की दाल चावल में बहुत से पौषक तत्व होते हैं जो हमारी सेहत को कई फायदे देते हैं। तो चलिए जान लेते हैं इसके फायदे के बारे में।

दाल-चावल खाने के ये फायदे – daal chawal khane ke fayde in Hindi

बढ़ती है उर्जा – Daal chawal ke fayde sharir me urja ko badhate hai

चावलों में कई तरह के तत्व पाए जाते हैं जैसे कार्बोहाइड्रेट आदि इससे हमारा शरीर उर्जावान होता है। दाल और भात यानि चावल दोनों में ही पोषक तत्वों की मौजूदगी से शरीर की कमजोरी दूर हो जाती है।

मिलता है भरपूर मात्रा में प्रोटीन

शरीर में प्रोटीन की कमी से हमें कई समस्याएं हो सकती हैं। एैसे में आप दाल चावल का सेवन कर सकते हो। क्योंकि दाल और चावल दोनों में प्रोटीन की उचित मात्रा रहती है। इसे हाई—प्रोटीन डायट भी कहा जाता है। एैसे में यदि नियमित दाल —चावल को खाते हो तो इससे शरीर में प्रोटीन की कमी दूर हो जाएगी और आपकी हेल्थ भी बन जाएगी।

नियंत्रित रहता है वजन

आपको ये जानकर हैरानी होगी की दाल चावल खाने से हमारा बढ़ा हुआ वजन नियंत्रित हो सकता है। यदि आप सफेद चावलों की जगह ब्राउन राइस का प्रयोग करते हो तो इससे आपका वजन नहीं बढ़ेगा। आपको चावल का प्रयोग कम ही करना है। दाल चावल खाने से पेट भरा—भरा लगता है और बार—बार भूख नहीं लगती है।

 

शरीर में फाइबर की कमी – Daal chawal complete Lack of fiber in the body

आपको बता दें की चावल दाल में फाइबर की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। जिससे हमारे शरीर में फाइबर की कमी पूरी हो जाती है। यही नहीं फाइबर हमारे पूरे स्वास्थ्य के लिए भी महत्वपूर्ण होता है। शरीर में यदि किसी को शुगर की समस्या खासकर की ब्लड शुगर हो तो उसके लिए फाइबर की आवश्यकता बहुत जरूरी होती है। इसके अलावा फाइबर की वजह से हमारा पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है।

आसानी से पचता है

दोस्तों इस बात में कोई दो राय नहीं है कि दाल चावल अधिक तेजी से पचते हैं। जिसकी वजह से यह हमें पेट से संबंधित किसी भी समस्या से बचाते हैं। जब आप चावलों को मूंग की दाल के साथ खाते हो तब इससे पेट में आसानी से प्रोटीन पहुंच जाते हैं जिससे शरीर का पचन तंत्र मजबूत बनता है।

सबसे अधिक पढ़े गए लेख :

तनाव को दूर करती है प्रार्थना

घबराहट दूर करने का आयुर्वेदक इलाज

बचाएगा सिर के रोगों से, सूजी का हलवा



Loading...
डिसक्लेमर : AyurvedicSehat.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी AyurvedicSehat.com की नहीं है। AyurvedicSehat.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।

Leave a Reply