जानें गर्मी में लू के लक्षण और बचाव के उपाय

जानें गर्मी में लू के लक्षण और बचाव के उपाय!!

गर्मियों के आते ही कई सारी समस्याएं शुरू हो जाती हैं। खासकर की तेज गर्म हवा का बढ़ना जिससे लू जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है। एैसे में इंसान को लू का खतरा बढ़ जाता है। ​जी हां यदि लू लग जाए तो इंसान का शरीर का तापमान बढ़ जाता है और फिर इसकी वजह से कई तरह की समस्याएं जैसे सिर में दर्द, उल्टी, ​दस्त आदि हो सकते हैं। एैस में विशेष सावधानी की जरूरत होती है। आपको जैसे ही पता चलता है लू के इन लक्षणों के बारे में तो बिना देर किए आप जरूर ये उपाय कर सकते हैं।

side effects of drinking water while standing 2

सबसे पहले जान लेते हैं लू से शरीर पर पड़ने वाले असर व लक्षणों के बारे में – Symptoms of Heatstroke in Hindi

  • सांस का तेज हो जाना और फिर हमारी नाड़ी का भी तेजी होना इस समस्या एक प्रमुख लक्षण है। इसके अलावा ये लू हमारे दिमाग व किडनी के अलावा हृदय पर भी असर डाल सकती है। यही नहीं कई बार लोगों को पेशाब संबंधी समस्याएं जैसे अधिक बार पेशाब का आना आदि हो सकता है।
  • शरीर पर लाल रंग के चकते पड़ने लगते हैं।
  • इसके अलावा शरीर में जकड़न का होना भी इस समस्या का मुख्य लक्षण है।

अब जान लेते हैं उन कारगर घरेलू उपायों को जिनसे लू से बचा जा सकता है।

  • जब भी आप तेज व चिलचिलाती धूप में घर से निकल रहें हों तो आप अपने सिर का जरूर कैप या फिर छितरी से जरूर ढ़कें।
  • इसके अलावा अपने साथ पानी की एक से दो लीटर की बोतल को जरूर साथ में रख लें।
  • घर से बाहर जाते समय हमेशा कुछ ना कुछ पीकर जरूर निकलें जैसे शिकंजी, शर्बत या आम पना आदि।
  • पानी को आप थोड़ा—थोड़ा पीते रहें। ताकि शरीर में पानी की कमी ना हो।
  • नींबू के पानी में थोड़ा सा सेंधा नमक मिलाकर इसका सेवन करें।
  • आपको गर्मियों के मौसम में खासकर की तेज धूप वाले दिनों में हमेशा कुछ ना कुछ खाकर घर से बाहर जाना चाहिए। खाली पेट बिलकुल
  • ना निकलें। इसके अलावा आप दिन के खाने में दही या छाछ आदि को जरूर शामिल करें। सब्जियों का जूस भी आप पी सकते हो।

दोस्तों, ये तो थे लू से बचने के लिए क्या उपाय करने चाहिए। लेकिन अब आपको ये भी जानना जरूरी है की यदि लू लग जाए तो तुरंत
क्या उपाय करने चाहिए।

लू से बचने के वैदिक उपाय- Cure of heatstroke in Hindi

  • कई बार देखा जाता है की लू की लगने की वजह से कई लोगों में घमौरियों की समस्या हो जाती है। एैसे में आप बेसन लें और फिर इसे साफ पानी में घोल लें और फिर इसे घमौरियों वाली जगह पर लगाएं। आपको आराम मिलेगा।
  • जौ के आटे को आप नहाने वाले पान में मिला लें और फिर इसका लेप बना लें। और इस लेप को अपने सारे शरीर पर लगा लें। जब यह सूख जाए तब आप ठंडे पानी से स्नान कर लें।
  • कच्चे आम लें और फिर इन्हें पीसकर इनका पेस्ट यानि लेप बना लें और फिर इस लेप से अपने पैरों के तलवों पर अच्छी तरह से मसाज करते रहें। इससे लू का असर कम होने लगेगा।
  • प्याज के पेस्ट को जौ के आटे के साथ मिलाकर उसे लू से ग्रसित इंसान के शरीर पर लगा लें। इससे लू का प्रभाव खत्म होने लगेगा।
  • पेठा सेवन से लू का खतरा कम हो जाता है।
  • प्याज की चटनी, नारियल की चटनी व टमाटर की चटीन को खाने से भी लू का प्रभाव खत्म हो जाता है।
  • गुड यदि आप गर्मियों के मौसम में खाते हो तो लू का असर आपके शरीर में नहीं होता है।
  • प्याज के रस में शहद को मिलाकर लू की समस्या से परेशान इंसान को इसका सेवन कराएं।
  • जब भी आप तेज धूप में निकलें तो अपने बैग या पर्स में घिसी हुई प्याज को रखें। या फिर प्याज का छिलका अपने पास रखें। इससे
    लू नहीं लगत है।

अधिक पढ़े गए लेख-

महानारायण तेल के आयुवेर्दिक फायदे

चाय पीने के नुकसान आपको नहीं होगें पता

चर्म रोग का सफल घरेलू उपचार

मिश्री खाने के अचूक फायदे



Loading...
डिसक्लेमर : AyurvedicSehat.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी AyurvedicSehat.com की नहीं है। AyurvedicSehat.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।