पेट की पथरी का घरेलू उपचार

पेट की पथरी का सफल घरेलू उपचार!

आए दिन पथरी की समस्या लोगों को हो रही है। और पथरी का होना वैसे तो बहुत ही सामान्य बात है। लेकिन अगर ठीक समय पर इसका इलाज ना कराया जाए तो इसका दर्द इतना भंयकर हो जाता है की आपको डॉक्टर के पास जाना पड़ सकता है। पथरी को बीमारी के तौर पर तो नहीं देखा जाता है लेकिन इससे आपकी सेहत को सीधा नुकसान हो सकता है। पथरी की कुछ जगहें होती हैं जहां पर ये बनती हैं। जैसे किडनी, पित्त और पेट। इस लेख में हम आपको बताएंगे कैसे आप पेट की पथरी का उपचार अपने घर पर ही कर सकते हो। और इसके लिए आपको कहीं भी जाने की जरूरत नहीं हैं।

पेट की पथरी का उपचार और नुस्खे – home remedies for stomach stone problem in Hindi

basil leaf during-pregnancy in hindi

प्रयोग करें तुलसी का

प्राकृतिक और औषिधिय तत्वों से भरपूर रहती है तुलसी। अगर आप पेट या फिर किडनी की पथरी की समस्या से परेशान हो तो इसके लिए आप तुलसी को पानी में डालकर पीएं। और शहद और तुलसी का रस भी आप पीएं। इससे जल्द ही पथरी पेशाब मार्ग से बाहर निकल जाएगी। और आप पथरी से निजात पा जाओगे। एक बात आप ध्यान रखें की आपको शहद और तुलसी का रस सुबह के समय खाली पेट ही सेवन करें। इससे आपको बहुत जल्द ही फायदा मिलेगा।

apple cider vinegar

लाभकारी है सेब का सिरका

आसानी से आपको बाजार में मिल जाएगा सेब का सिरका। ये पेट की पथरी को आसानी से गलाकर बाहर कर देता है। यही नहीं किडनी की पथरी का भी सफल उपचार है सेब का सिरका।
आप एक गिलास या कप लें उसमें गुनगुना पानी डालें और फिर उसमें दो चम्मच सिरका और एक चम्मच की मात्रा में उसमें शहद को भी मिला लें। और इसका सेवन करें। एैसा आप दिन में कम से कम तीन बार तो जरूर करें। यदि आप इस उपाय को नियमित कुछ दिनों तक करते हो तो इससे पेट की पथरी और किडनी की पथरी ठीक हो जाएगी।

आॅलिव आयल और नींबू

आप यदि जैतून यानि आॅलिव आयल और नींबू का प्रयोग करते हो तो इससे पेट की पथरी पेशाब के जरिए बाहर निकल जाती है। यही नहीं इससे मूत्राशय में जमी हुई पथरी भी निकल जाती है।
अगर आप तीन से चार चम्मच आॅलिव आयल में इतनी ही मात्रा में नींबू का रस मिलाकर पीते हो तो इससे पथरी जल्दी बाहर निकल जाती है। आपको इसे दिन में तीन बार लेना है।

anar ke juice se chamkega cheharaअनार

पथरी की सबसे अचूक और सफल दवा है अनार। अगर आप अनार का रस पीते हो तो इससे पेट में मौजूद पथरी गलने लगती है। इसलिए आप अनार का ताजा रस पीएं। इसके अलावा आप अनार के दानों का भी सेवन कर सकते हो।

watermelon

तरबूज से उपचार

आप तरबूज को तो खाते ही हो यह हमें गर्मियों के मौसम में बहुत राहत देता है। लेकिन यदि आप इसका सेवन करते हो तो यह पेट में मौजूद पथरी को होने नहीं देता है। यह भी एक कारगर उपचार है।

wheat leaf juice

गेहूं की घास से पेट की पथरी का इलाज

हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है गेहूं की घास का रस। जी हां ये पेट की सभी बीमारियों का सबसे अच्छा उपचार है। अगर बात करें पेट की पथरी की तो आप गेहूं की घास से ​बना जूस यानि की रस का सेवन करें। आप इसमें तुलसी का रस भी मिलाकर सेवन कर सकते हो।गेहूं की घास में बहुत अधिक मात्रा में गुणों का भंडार होता है जो ना केवल पथरी को खत्म करता है अपितु आपको कई बीमारियों से भी बचाता है।

nettle leaf

​बिछुआ की पत्ती

आपने शायद ही​ बिछुआ की पत्ती के बारे में सुना होगा। जी हां इसे अंग्रेजी में नेटल लीफ कहा जाता है। इससे पथरी आसानी से मूत्रमार्ग से बाहर निकल आती है। पेट और किडनी की पथरी में बहुत ही फायदेमंद होती है बिछुआ पत्ती। क्योंकि यह प​थरी को बनने से रोक देती है। आप दस पत्तियां बिछुआ की पत्ती लें और उन्हें सुखा लें और फिर उसे गर्म पानी में डाल दें और इसे उबाल लें। इसके बाद इसे छानकर इसका सेवन करें। इससे पथरी की समस्या ठीक हो जाती है।

और भी पढ़ें —
धीरे—धीरे खाना खाने से जड़ से खत्म होते हैं ये रोग!!

प्रसारिणी तेल के आयुर्वेदिक फायदे

अब मछली बचाएगी आपको हार्ट फेल से

 



डिसक्लेमर : AyurvedicSehat.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी AyurvedicSehat.com की नहीं है। AyurvedicSehat.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।

Leave a Reply