कोलकाता के बारे में जानें रोचक तथ्य

कोलकाता के बारे में जानें रोचक तथ्य

कोलकाता भारत के उत्तर पूर्व हिस्से में बसी हुई वो जगह है जो अपने आप में इतिहास को समेटे हुए है। आज के बदलते जमाने में कोलकता भारत की टॉप 5 मेट्रो सिटीज में से एक है। इसलिए इसे सिटी आॅफ पैरिस भी कहा जाता है। दोस्तों अंग्रेजों को ये जगह इतनी पसंद थी की उन्होनें कोलकाता को भारत की राजधानी बनाया था। क्षेत्रफल के लिहाज से यह एक बड़ा शहर है।

कोलकाता के बारे में जानें  रहस्य रोचक तथ्य // Secrets of Kolkata in Hindi

बंगाल विभाजन के बाद 1911 में भारत की राजधानी को कोलकाता से दिल्ली कर दी गई। आपको कोलकाता में हर धर्म व समुदाय के लोग मिलेगें। यही नहीं यहां के लोगों में आपसी एकता भी है।

आपको अधिकतर लोगों के घरों में रविंद्रनाथ टैगोर की किताबें व उनका चित्र देखने को मिलेगा। विक्टोरिया मेमोरियल यहां पर खास महत्व रखता है। यह हमें अंग्रजों के जमाने की याद दिलवाता है।

यहां आपको बेहद खूबसूरत इमारतें दिखेगीं। ट्राम रेल आपको भारत में केवल कोलकाता में ही दिखेगी। ये रेल लोगों के जीवन का अहम हिस्सा भी है।

यहां आपको पुराने जमाने से चला आ रहा हाथों से खिचे जाने वाला रिक्शा भी दिखेगा। दुनिया का तीसर सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम है इडन गार्डन कोलकाता में ही है। भारत की सबसे बड़ी सांइस सिटी भी यहां पर है। सभी राज्यों के विज्ञान के छात्र यहां आते हैं।

यहां का कॉलेज स्ट्रीट भारत का सबसे पुरानी और बड़ी किताबों की मार्किट है।

अलीपुर जू भारत का सबसे प्राचीन चिड़िया घर है।
कोलकाता में ही चाइना के अधिकतर लोग काम करते हैं।
यहां लगने वाला किताबों का मेला पूरे विश्व में तीसरा स्थान रखता है।

यही नहीं भारत में सबसे पहले भूमिगत मेट्रो रेल भी कोलकाता में ही शुरू हुई थी।
कोलकाता का गोल्फ क्लब दुनिया का दूसरा सबसे पुराना गोल्फ क्लब है।
यहां का साल्ट लेग स्टेडियम दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा फुटबॉल स्टेडियम है।
भारत का सबसे बड़ा तारामंडल बिरला प्लेनेटोरियम कोलकाता में ही हैं।
कोलकाता में सोनागाछी एशिया का सबसे बड़ा रेड लाइट एरिया है। देश विदेश की महिलाएं यहां काम करती हैं।



डिसक्लेमर : AyurvedicSehat.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी AyurvedicSehat.com की नहीं है। AyurvedicSehat.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।

Leave a Reply