Coconut oil massage benefits for babies in Hindi

बच्चों के लिए नारियल तेल की मालिश करने के फायदे

बहुत से लोग अक्सर इस बारे में बहुत चिंतित रहते हैं की वे अपने छोटे बच्चों की मालिश किस तरह के तेल से करें। और कौन सा तेल बच्चों के लिए लाभकारी होगा। आदि। दोस्तों आपको बता दें की अगर आप छोटे बच्चों की बॉडी मसाज के लिए जिस तेल को खोज रहे हैं वो है नारियल का तेल। ये तेल सेहत के साथ बच्चों की कोमल त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। क्योंकि नारियल के तेल में अन्य दूसरे तेलों से कम मात्रा में मिनरल्स पाए जाते हैं। लेकिन इसमें मौजूद आयरन त्वचा के लिए बहुत ही लाभकारी होता है।

इस तेल से यदि आप अपने छोटे बच्चों की मसाज करें तो बहुत तरह के फायदे बच्चों के शरीर को मिल सकते हैं। इस लेख में आपको बताया जा रहा है कि आखिर कैसे फायदेमंद होता है नारियल का तेल और किस तरह से मालिश करनी चाहिए।

शरीर में बढ़ता है ऑक्सीजन का प्रवाह

इस तेल में प्रचूर मात्रा में आयरन तत्व पाया जाता है जिससे बच्चों के शरीर में आयरन की कमी दूर होती है। यही नहीं जैसा की हमने आपको बताया था की ये तेल मिनरल्स से रहित होता है इसलिए इस तेल को बच्चे की त्वचा के लिए महत्वपूर्ण माना गया है।बच्चे के शरीर में हवा का संचार सही तरह से होता है इस तेल की मालिश से। यूं कहें की ऑक्सीजन का सर्कुलेशन अच्छा रहता है।

बच्चों के अंग बहुत नाजुक होते हैं एैसे में तेल भी उसी तरह का हो जो उनको कोई नुकसान ना पहुंचाए। एैसे में नारियल तेल से मसाज बच्चों के शरीर में पोषक तत्वों की कमी को दूर करता है। साथ ही बच्चे के शरीर के अंगों का विकास भी अच्छे से होता है। इस तेल में विटामिन सी, विटामिन ई और विटामिन के जैसे महत्वपूर्ण तत्व होते हैं। ये तत्व नए उत्तकों को बनाने में मदद करते हैं। आप कम से कम सप्ताह में दो से तीन बार नारियल तेल से बच्चे की मालिश करें।

नींद अच्छी आती है शिशुओं को

नारियल के तेल से नन्हें शिशुओं के शरीर की मालिश करने से उन्हें नींद अच्छी आती है। साथ ही बच्चों का विकास खासकर की मानसिक विकास अधिक तेजी से होता है। यही नहीं ये तेल बच्चे के शरीर का विकास भी करता है। साथ ही उनके शरीर में इससे उर्जा का संचार भी होता है।

बचाता है इंफेक्शन से

शरीर में कई बार अंदर से इंफेक्शन बच्चों के हो जाता है। और इस तेल का प्रयोग करके बच्चे की मां भोजन बनाने में करती है या नारियल तेल से बने खाने को खाती है तो इससे बच्चे को मां से मिलने वाला दूध अधिक पौष्टिक हो जाता है और जब बच्चा ये दूध पीता है तो उससे उसका दिमाग तो तेज होता ही है साथ ही बच्चे की इम्यूनिटी भी बढ़ती है। नारियल के तेल में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं साथ ही इसमें एंटीफंगल तत्व भी होते हैं जो बच्चे को इंफेक्शन से बचाते हैं।

नमी के लिए जरूरी है

दोस्तों बच्चों को नारियल तेल से मालिश करने से सबसे बड़ा फायदा ये मिलता है की उनके शरीर में नमी बनी रहती है। यानि त्वचा मॉइश्चराइज रहती है। इस तेल को प्राकृतिक माना गया है। और नन्हे शिशुओं को नमी की अधिक जरूरत रहती है। इसलिए ये तेल बहुत ही लाभकारी होता है उनके लिए।

इस तरह से बच्चे की मालिश करनी चाहिए नारियल तेल से

सबसे पहले आप इस तेल को गर्म कर लें। यानि की यह तेल गुनगुना होना चाहिए। एैसा इसलिए क्योंकि ये तेल बहुत जल्दी जम जाता है। इसके बाद आप इस तेल को सबसे पहले अपने हाथों में लगा लें। और फिर इन हाथों से शिशु की त्वचा पर आराम से मालिश करें। क्योंकि बच्चे की त्वचा बहुत नाजुक होती है। इसलिए गर्म तेल से उन्हें दर्द हो सकता है।

और भी पढ़ें —

एलर्जी का इलाज, उपचार और घरेलू नुस्खे

लीवर को स्वस्थ रखेंगे ये दस आयुर्वेदिक उपाय !!

हर्निया का लक्षण और उसका आयुर्वेदिक उपचार

बींस को रोज खाने से मिलते हैं अचूक फायदे



डिसक्लेमर : AyurvedicSehat.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी AyurvedicSehat.com की नहीं है। AyurvedicSehat.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।

Leave a Reply