how to make Natural eno at Home in Hindi

घर पर नैचुरल ईनो बनाने का तरीका

कभी ना कभी अक्सर इंसान अधिक खा लेता या गलत चीजों का सेवन कर लेता है जिसकी वजह से पेट से संबंधित कई बीमारियां उसे होने लगती हैं। जिसमें से सबसे बड़ी समस्याएं आती हैं वह हैं खट्टी डकार, कब्ज, गैस और एसिडिटी का होना आदि । इस वजह से बेचैनी, घबराहट और दर्द के अलावा ना जाने किन—किन चीजों का सामना करना पड़ता है। अगर समय पर इनका उपचार ना किया जाए तो इस तरह की समस्याएं हमारे पाचन शक्ति को बुरी तरह से प्रभावित कर देती हैं। और इंसान जीवनभर अपच की समस्या से परेशान रहता है।

पेट की इन बीमारियों से बचने के लिए इंसान बाजार से महंगी दवाओं का प्रयोग करने लगता है। ताकि उसे एसिडिटी व गैस से तुंरत राहत मिल जाए। लेकिन हम आपको एैसी घरेलू औषधि को बनाना बता रहे हैं जिसे आप आसानी से अपने घर पर बना सकते हो साथ ही बाजार में मिलने वाली महंगी दवाओं से बच सकते हो।

आपने अक्सर देखा होगा की बाजार में आपको 80 से 100 रूपये के बीच में मिलती है गैस से राहत पाने की दवा। और यह केवल महज 8 रूपये में बनती हैं। और फिर इन्हीं के छोटे पैक बनाकर आपको 4 से 9 रूपये के बीच आपको बेचा जाता है।

अब हम आपको बता दें की आप कैसे अपने घर पर कब्ज और गैस से बचने की दवा को बना सकते हैं। यानि की प्राकृति ईनो कैसे तैयार करना है।

घर पर नैचुरल ईनो बनाने का तरीका – How to make Natural eno at Home in Hindi
जरूरी सामग्री

नींबू कटा हुआ लें
नमक चुटकी भर लें
आधा चम्मच मीठा सोडा लें।

ईनो बनाने की विधि

एक गिलास में नींबू का रस डालें।
और फिर उपर से उसमें चुटकी भर नमक को डालें।
और बाद में फिर मीठा सोडा भी आप मिला लीजिए। इसके बाद आप इसे पी जाएं। आपको आराम मिलेगा।

इस तरह से आप झट से राहत पा सकते हो पेट की गैस, कब्ज और महंगी दवाओं के सेवन से, दोस्तों खट्टी डकार भी यदि आपको आती हो तो इसका सेवन करें। ये ईनो आपको हर तरह से पेट के रोगों में छुटकारा पा सकते हो।

अधिक पढ़े गए लेख

बालतोड़ का घरेलू इलाज जो आपको शायद ही पता हो

महिलाओं के पीरियड्स में बेहद फायदेमंद हेाता है गाजर का जूस…कैसे जरूर जानें

हर्निया का लक्षण और उसका आयुर्वेदिक उपचार

बींस को रोज खाने से मिलते हैं अचूक फायदे



डिसक्लेमर : AyurvedicSehat.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी AyurvedicSehat.com की नहीं है। AyurvedicSehat.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।

Leave a Reply