edi me dard hatane ke tarike

एडी में दर्द तो अपनाएं ये तरीके

अक्सर हम सभी को हर काम जल्दी और तेजी से करने की आदत बनी हुई है। और एैसे में शरीर के कुछ अंग अधिक सक्रीय रहते हैं और फिर उनमें अचानक से दर्द होने लगता है। एैसा ही दर्द पैरों से ही शुरू होता है। क्योंकि शरीर का सारा भी हमारे पैर ही उठाते हैं। दोस्तों आपको बता दें की प्लांटर फेशिया एक तरह का उतकों का वह समूह होता है जो हमारे पैरों की एडियों की हड्डियों को हामरे पैरों के उंगूठे से जोड़ता है। लेकिन जब इनमें तकलीफ होती है या फिर यह खत्म हो जाते हैं तो इससे इंसान का चल फिर पाना बहुत मुश्किल हो जाता है। एडियों में होने वाला दर्द कई नामों से जाना जाता है जिनमें से एक नाम है प्लांटर फेशिआइटीस।

हाल ही में हुई एक रिसर्च बताती है की पैरों में होने वाले दर्द या फिर एडियों के दर्द से ग्रसित लोगों में से पचास प्रतिशत लोग प्लांटर फेशिआइटीस से ग्रसित होते हैं। एैसे में इस परेशान के कई कारण हो सकते हैं। जैसे गलत तरीके से चलना, अधिक वजन या भार का उठाना आदि।

एडी में दर्द तो अपनाएं ये तरीके

आपको बता दें की वे महिलाएं जो एथलीट होती हैं या फिर गर्भवती उन्हें भी इस समस्या का अधिक सामना करना पड़ता है। पुरूषों में भी बहुतों को ये परेशानी हो सकती है। इस परेशानी का उपचार वैसे तो कठिन है लेकिन कुछ उपाय इसमें आपको राहत दे सकते हैं।

इसके लिए आपको अपने घर पर ही कुछ व्यायाम करने होंगे। ताकी दर्द वाले हिस्से से निजात पाया जा सके। व्यायाम बहुत हद तक आपको इस दर्द से बचा सकता है। अगर सुबह के समय आपको अचानक से एड़ी में दर्द होता हो तो आप कुछ नियम या तरीके जरूर अपनाएं।

तरीके जो एडियों में दर्द से निजात दिलवा सकते हैं।

इस बात में कोई दो राय नहीं है की यह दर्द किसी भी उम्र के लोगों को हो सकता है या उम्र बढ़ने पर एडियों में दर्द की संभावना अधिक रहती है।

यदि एडियों में दर्द की वजह से आपको दिक्कत या परेशानी हो रही हो तो इसके लिए आप इन दो व्यायामों को जरूर करें।

आप एक तौलिया ले लीजिए। इसके बाद आप उस तैलिये को अच्छी तरह से मोड़ें और फिर उसे अपने पैरों के तलवों के नीचे रख दें। आप अब एडियों को हल्के से उपर की ओर उठाएं। और फूट को थोड़ा स्ट्रेच कर लें। एैसा आपको कम से कम पंद्रह से तीस सेंकेेड तक ही करना है। और इस प्रकिया को फिर दूसरे पैर से भी करें। यानि आप इस तरीके को दूसरे पैर के साथ भी करें।

दूसरी प्रक्रिया में आप एक पानी की बोतल लें और फिर अपने पहले तलवे के नीचे इस पानी की बोतल को रखें। अब आप इसे अपने तलवों के जरिए आगे पीछे की ओर रोल करें। एैसा आप कम से कम एक मिनट तक करते रहें। इसके बाद आप दूसरे पैर से इस प्रक्रिया को दोहरांए।

इस तरह आप यदि इन दो उपायों को रोज करते हैं कुछ दिनों तक आप आपको जरूर सुबह पैरों की एडियों में होने वाले दर्द जिसे प्लांटर फेशिआइटीस कहा जाता है उससे निजात मिलेगा।

सबसे अधिक पढ़े गए लेख :

तनाव को दूर करती है प्रार्थना

घबराहट दूर करने का आयुर्वेदक इलाज

बचाएगा सिर के रोगों से, सूजी का हलवा



डिसक्लेमर : AyurvedicSehat.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी AyurvedicSehat.com की नहीं है। AyurvedicSehat.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।

Leave a Reply