एल्यूमिनियम फॉयल के नुकसान सेहत के लिए

एल्यूमिनियम फॉयल के नुकसान हमारे स्वास्थ्य के लिए

अक्सर हम लोग अपने खाने को एल्यूमिनियम की फॉयल पेपर में पैक करते हैं। एैसा इसलिए क्योंकि इससे हमारा खाना गरम और ताजा रहता है। बच्चे हों या बड़े सभी इस तरह के एल्यूमिनियम फॉयल में अपने खाने को पैक करके इसका इस्तेमाल करते हैं। लेकिन दोस्तों ये हमारी सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। इस लेख में हम आपको बताएंगे एल्यूमिनियम फॉयल से होने वाले नुकसान के बारे में।

एल्यूमिनियम फॉयल के नुकसान हमारे स्वास्थ्य के लिए- aluminium foil paper side effects in Hindi


बासी खाना ना रखें

आप इस बात पर जरूर ध्यान दें की भूलकर आप बासी खाना या फिर बचा हुआ भोजन एल्यूमिनियम फॉयल में ना पैक करें। और आप इस फॉयल पेपर पर खाने को माइक्रोवेव में गरम करने के लिए ना रखें।

पथरी में परहेज ना खाएं ये आहार

किडनी को हो सकता है नुकसान

एल्यूमिनियम फॉयल पर हुए कई नतीजों से ये बात साबित हुई की जो लोग इसका इस्तेमाल अधिक करते हैं तो उनकी किडनी पर इसका असर पड़ सकता है। साथ ही यह हमारी हड्डियों को भी नुकसान पहुंचा सकता है।

chi-power-

अल्जाइमर हो सकता है

शोध में पाया गया है कि यदि आप एल्यूमिनियम फॉयल में अधिक गर्म खाना रखते हो और फिर उसका सेवन करते हो तो इससे आपको डिमेंशिया या फिर अल्जाइमर की समस्या हो सकती है। और यह घातक भी हो सकता है।

bacteria
बैक्टी​िरया पनपने का खतरा

जी हां दोस्तों एल्यूमिनियम फॉयल में खाना रखना खासकर की मसालेदार खाना व टमाटर और सिट्रिक फल आदि खतरनाक हो सकता है। क्योंकि इनमें आसान से बैक्टीरिया व कीटाणु आसानी से पनप सकते हैं। जिससे आप बीमार पड़ सकते हो।

इस तरह से अब आप जान गए होंगे की कितना नुकसानदायक है ये फॉयल। इसका इस्तेमाल आप सीमित मात्रा में करें। और जिन चीजों को इस लेख में बताया गया है उन्हें इस फॉयल पपेर में नहीं लपेटना चाहिए। यदि आपको ये जानकारी पसंद आए तो आप जरूर इसे अपने परिवार के लोगों में भी जरूर शेयर करें।

अधिक पढ़े गए लेख-

बचाएगा सिर के रोगों से, सूजी का हलवा

देसी घी खाने के नुकसान आपको नहीं पता होगें।

बुंरास का फूल के फायदे अच्छी सेहत के लिए



डिसक्लेमर : AyurvedicSehat.com में जानकारी देने का हर तरह से वास्तविकता का संभावित प्रयास किया गया है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी AyurvedicSehat.com की नहीं है। AyurvedicSehat.com में दी गई जानकारी पाठकों के ज्ञानवर्धन के लिए है। अतः हम आप से निवेदन करते हैं की किसी भी उपाय का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह लें। हमारा उद्देश्य आपको जागरूक करना है। आपका डाॅक्टर ही आपकी सेहत बेहतर जानता है इसलिए उसका कोई विकल्प नहीं है।